पुलिस के हाथ लगा ऑटोमैटिक हथियारों का जखीरा, एक गिरफ्तार

0

नई दिल्ली| दिल्ली पुलिस ने फिर अपनी मुस्तैदी से एक नई कामयाबी हासिल की है। पुलिस ने हथियारों की तस्करी करने वाले एक गिरोह का पर्दाफ़ाश करते हुए 20 ऑटोमैटिक पिस्तौल बरामद किए हैं। इसके साथ ही पुलिस ने इस गिरोह के एक सदस्य को भी गिरफ्तार किया है। अब पुलिस इस गिरोह के अन्य सदस्यों और गिरोह से हथियार खरीदने वालों को गिरफ्तार करने की तैयारी कर रही है।

इस बारे में जानकारी देते हुए पुलिस उपायुक्त मधुर वर्मा ने शनिवार को बताया कि मध्य प्रदेश के धार जिले से यह गिरोह संचालित हो रहा था और दिल्ली तथा इसके आस-पास के इलाकों में हथियारों की आपूर्ति करता था। गिरोह पिछले दो वर्षो से अवैध हथियारों के निर्माण एवं आपूर्ति में सक्रिय था। उन्होंने कहा कि 39 वर्षीय उगारा सिंह को शुक्रवार रात करीब नौ बजे पूर्वी दिल्ली से गिरफ्तार किया गया।

यह भी पढ़ें: युद्ध के लिए भारत ने कस ली कमर, सीमा पर ‘नो वॉर, नो पीस’ मोड पर तैनात हैं 45 हजार जवान

डीसीपी ने कहा कि गिरोह धार में बंदूकों के पार्ट्स का निर्माण करता था और इसे जंगलों में एसेम्बल करता था। पुलिस ने कहा कि गिरफ्तारी से बचने के लिए यह गिरोह इंदौर-जयपुर-दिल्ली की तिहरी सीमा से सटे इलाको से होकर यात्रा करता था।

अधिकारी ने बताया कि वे कूट शब्दों का इस्तेमाल करते थे और इसलिए यदि कोई उन्हें फोन पर बात करते सुन भी लेता था, तब भी वे सुरक्षित बच निकलते थे।

यह भी पढ़ें: पत्थरबाजों ने फिर की आतंकी की मदद, सुरक्षा बलों को चकमा देकर फरार हुआ जाकिर मूसा

पुलिस उपायुक्त ने कहा कि वे भैरों मंदिर के लिए लाल किला और सराय कला के लिए ताज महल का इस्तेमाल करते थे, ताकि यदि कोई उन्हें सुन भी लें तो उन्हें गुमराह किया जा सके। शहर में उन लोगों की गिरफ्तारी के लिए अभियान चलाए जा रहे हैं, जो इस गिरोह से हथियार खरीदते थे।

loading...
शेयर करें

आपकी राय